PM Swamitva Yojana ऑनलाइन पंजीकरण, लाभ, पात्रता

Author:


PM Swamitra Yojana 2022 | प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन पंजीकरण | PM Swamitva Yojana Application Form | स्वामित्व योजना

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने एक नई योजना की शुरुआत की है। जिसका नाम प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2022 है। इस योजना के अंतगर्त  देश में रहने वाले प्रत्येक नागरिक की जमींन का सारा रिकॉर्ड का डिजिटलीकरण ई ग्राम स्वराज वेबसाइट पर किया जायगा, और जमींन की नपाई के लिए मैपिंग की जायगी | इस योजना के तहत सरकार द्वारा एक प्रॉपर्टी कार्ड भी दिया जायगा। इससे जमींन का सारा रिकॉर्ड का लेखा जोखा किया जायगा तथा इसके साथ ही कोई भी बैंक से लोन ले सकेंगे। तो दोस्तों आज हम आपको PM Swamitva Yojana 2022 के लाभ,  मुख्य विशेषताएं तथा उद्देश्य, मुख्य तथ्य, प्रॉपर्टी कार्ड के आवेदन की प्रक्रिया आदि अपनी पोस्ट में बताने जा रहे है, सारी जानकारी के लिए आप से अनुरोध है की आप हमारी इस पोस्ट को ध्यान से पूरा पढ़े | [यह भी पढ़ें- एलआईसी आम आदमी बीमा योजना 2021 | ऑनलाइन आवेदन, क्लेम फॉर्म पीडीएफ]

Table of Contents

PM Swamitva Yojana Sampatti Card

इस स्वामित्व योजना के तहत ई ग्राम स्वराज वेबसाइट पर जमींन का रिकॉर्ड भी चेक करवा सकते थे,प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के तहत आज दिनांक 11 अक्टूबर 2020 दिन रविवार को एक प्रॉपर्टी कार्ड को शुरू किया है, भारत के लगभग एक लाख  नागरिको के  मोबाइल पर एक लिंक प्रदान किया जायगा, जिससे वह सारे नागरिक उस लिंक पर क्लिक करके अपना डिजिटल संपत्ति कार्ड डाउनलोड करवा सकते है| हम आप से बता दे की इस प्रॉपर्टी कार्ड के तहत आज ही 763 गावों (जैसे,उत्तर प्रदेश के 346, हरियाणा के 221, मध्य प्रदेश के 44 , महाराष्ट्र के 100, तथा उत्तराखंड 50) के 1.32 लाख नागरिक प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा भेजे गए लिंक के द्वारा अपना डिजिटल संपत्ति रिकॉर्ड डाउनलोड करा सकते है | [यह भी पढ़ें- मिड डे मील योजना क्या है (मध्याह्न भोजन) | Mid Day Meal Scheme in Hindi]

स्वामित्व योजनाv

पीएम मोदी योजना

Highlights of the PM Swamitva Yojana

योजना का नाम पीएम स्वामित्व योजना
विभाग पंचायती राज मंत्रालय
वर्ष 2022
आरम्भ की गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
आरम्भ की तिथि 24 अप्रैल 2020
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
उद्देश्य लोन लेने में सुविधा
लाभ ग्राम समाज से जुड़ी सभी जानकारियां
श्रेणी केंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट egramswaraj.gov.in/

स्वामित्व योजना के तहत 2.30 लाख संपत्ति कार्ड

इस योजना के तहत अभी तक सरकार के माध्यम से 2.30 लाख संपत्ति कार्ड वितरित हो गए हैं। केंद्रीय पंचायती राज मंत्रालय में सचिव अनिल कुमार जी के माध्यम से बताया गया है कि 31 जनवरी 2021 तक करीब 23300 गांवों में ड्रोन सर्वे हो चुका है और करीब 1432 गांवों में 2.30 लाख संपत्ति कार्ड भी बांटे जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक इन गांवों के तहत 90 प्रतिशत से अधिक विवादों का निपटारा हो गया है और आगे 90 से 95 प्रतिशत विवादों का समाधान होने की उम्मीद है। [यह भी पढ़ें- (PMFBY) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन स्टेटस]

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना न्यू अपडेट

केंद्र सरकार की ओर से अभी तक केवल 10 जिलों को स्वामीत्व योजना के तहत चुना गया है और आने वाले सालो में सरकार के माध्यम से अन्य जिलों का चयन भी होगा, जिसका लाभ ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिको को दिया जाएगा। इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को उनकी जमीन का रिकॉर्ड उपलब्ध कराया जाएगा ताकि उन्हें बैंक से आसानी से कर्ज मिल सके। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के माध्यम से घोषणा की गई है, की यह पहली बार आवासीय भूमि का सर्वेक्षण किया जा रहा है। अभी तक यह योजना केवल यूपी महाराष्ट्र कर्नाटक हरियाणा मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में लागू की गई है। [यह भी पढ़ें- कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन 2021 | Kusum Yojana Registration, एप्लीकेशन फॉर्म]

स्वामित्व योजना 200 करोड रुपए का बजट आवंटन

मंत्रालय द्वारा स्वामीत्व योजना के लिए 200 करोड़ रुपये का बजट आवंटन किया गया है, जबकि पिछले साल इस योजना के तहत पायलट परियोजना पर सरकार द्वारा 79.65 करोड़ रुपये का बजट आवंटन किया गया था। मंत्रालय को पता चला है कि इस योजना के तहत अब तक राज्य में लगभग 130 ड्रोन टीमों को तैनात किया गया है, जिसके मार्च 2021 तक 500 ड्रोन तैनात करने की उम्मीद है। इस वित्तीय वर्ष के लिए आवंटित बजट पिछले साल की तुलना में 32 प्रतिशत अधिक है। इस योजना के तहत 2021-22 तक 16 राज्यों के 2.30 लाख गांवों को निश्चित वित्तीय बजट में शामिल किया जाएगा। [यह भी पढ़ें- उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन: ऑनलाइन आवेदन | Udyog Aadhaar MSME Registration]

स्वामित्व योजना आपत्ति दर्ज करने का समय

इस स्वामित्व योजना के द्वारा उस गाँव के नागरिकों का सरकार के माध्यम से सर्वेक्षण किया जाता है, जिसकी सूचना पहले से दी जाती है ताकि वे सभी लोग जो गाँव से बाहर हैं, उस दिन गाँव में मौजूद रहें। सरकार द्वारा गांव का पूरा नक्शा तैयार किया जाता है। इसके बाद उन सभी नागरिकों के नाम जिनके नाम जमीन है, उन सभी लोगों को पूरे गांव को सूचित किया जाता है। जिन नागरिकों को अपनी आपत्तियां दर्ज करानी हैं, वे न्यूनतम 15 दिनों और अधिकतम 40 दिनों में अपनी आपत्तियां दर्ज करा सकते हैं। जिन गांवों में कोई आपत्ति नहीं है, वहां राजस्व विभाग के अधिकारियों द्वारा भूमि के मालिक को जमीन के दस्तावेज दिए जाते हैं। [यह भी पढ़ें- आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021: Ayushman Bharat Health Card, डाउनलोड करे]

स्वामित्व योजना के तहत 2.30 लाख संपत्ति कार्ड

इस योजना के तहत अभी तक सरकार के माध्यम से 2.30 लाख संपत्ति कार्ड वितरित हो गए हैं। केंद्रीय पंचायती राज मंत्रालय में सचिव अनिल कुमार जी के माध्यम से बताया गया है कि 31 जनवरी 2021 तक करीब 23300 गांवों में ड्रोन सर्वे हो चुका है और करीब 1432 गांवों में 2.30 लाख संपत्ति कार्ड भी बांटे जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक इन गांवों के तहत 90 प्रतिशत से अधिक विवादों का निपटारा हो गया है और आगे 90 से 95 प्रतिशत विवादों का समाधान होने की उम्मीद है। [यह भी पढ़ें- आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2021: Ayushman Bharat Health Card, डाउनलोड करे]

9 राज्यों में शुरू हुई स्वामित्व योजना

हम सभी नागरिक जानते हैं कि हमारे देश के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 24 अप्रैल 2020 को स्वामित्व योजना शुरू की है और इस योजना के द्वारा गांव के नागरिको को उनकी रिहाई से जमीन और घर का स्वामित्व और वैध कागजात दिए जाते हैं। अब तक यह योजना देश के 9 राज्यों में शुरू की गई है, जो आंध्र प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और हरियाणा आदि हैं। इन राज्यों के लोगों को इसके माध्यम से काफी मदद मिली है। यह। यह योजना और इसी कारण यह योजना आज तक सफल मानी जाती है। स्वामित्व योजना के तहत देश के 5.41 लाख गांव आएंगे, जिसके तहत सरकार की ओर से 566.23 करोड़ रखे गए हैं। [यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री बेरोजगारी भत्ता योजना 2021- ऑनलाइन आवेदन (PM Berojgari Bhatta)]

स्वामित्व योजना का उद्देश्य (Objective Of Swamitva)

सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के सारे नागरिको को भूमि की डिजिटल तरीके से देख-भाल करना, और उस भूमि के कारण होने वाले विवादों का निपटारा करना | हम सभी जानते है की देश में  24 अप्रैल को पंचायती राज दिवस बनाया जाता है जबकि इस बार लॉकडाउन के कारण Swamitva Yojana की शुरुआत करके ख़ुशी जाहिर की गयी | स्वामित्व योजना के उद्देश्य के द्वारा हमारे देश के सारे नागरिको को जमींन की मैपिंग की जायगी और झगड़ो को हटाया जायगा तथा जमींन मालिक को उनकी सारी भूमि का मालिकाना हक दिया जायगा | सरकार की तरफ से इस योजना के द्वारा एक संपत्ति कार्ड दिया जायगा इससे जमींन मालिक अपनी किसी भी भूमि का रिकॉर्ड घर बैठे ऑनलाइन अपने मोबाइल पर चेक कर सकते है। [यह भी पढ़ें- Mera Ration App: वन नेशन वन राशन कार्ड, लाभ व विशेषताएं, डाउनलोड लिंक]

प्रधान मंत्री की अन्य सरकारी योजनाएँ :-

योजना का लाभ तथा विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना का सबसे ज्यादा लाभ भूमि के झगड़ो का निपटारा करने के लिए हो सकेगा |
  • अब ग्रामीण जिलों के लाभारतीयो को भी कोई भी बैंक से बहुत आसानी से लोन मिल सकेगा |
  • ड्रोन मैपिंग के तहत सभी भूमि की देख-भाल की जायगी।
  • भूमि का सभी रिकॉर्ड अब भूमि के मालिकों के पास ऑनलाइन अपने मोबाइल के द्वारा चेक कर सकेंगे।
  • अब से 5 वर्ष पहले जब प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया था तब 100 ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड के अंतगर्त   से शामिल किया गया था |
  • परन्तु अब 1.32 लाख ग्राम पंचायतों को एक साथ इंटरनेट के अंतगर्त शामिल किया गया है |
  • देश के 6 राज्यों में प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को आरम्भ कर दिया गया है, परन्तु 2024 तक स्वामित्व योजना का लाभ देश के सभी गावों तक प्रदान किया जायेगा।

सरकार द्वारा स्वामित्व योजना को आरम्भ करने की वजह

हम सभी जानते है की ग्रामीण नागरिको के पास अपनी खेती की भूमि के दस्तावेज तो थे परन्तु रिहाइश की भूमि के दस्तावेज नहीं थे जिसकी वजह से आयदिन देश में नागरिको के बीच वाद-विवाद और ज्यादा ही बढ़ता जा रहा था, इसलिए सरकार ने इस योजना की शुरुआत की है, स्वामित्व योजना के तहत सरकार सभी को अपनी प्रॉपर्टी के मालिकाना हक़ के तोर पर एक डिजिटल प्रॉपर्टी कार्ड देगी । जो यह संपत्ति किसकी है इस बात का सबूत होगा। संपत्ति कार्ड के द्वारा देश में हो रहे सभी विवादों हटाया जा सकेगा | [यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना 2021: Saubhagya Yojana, ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म]

स्वामित्व योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

प्रधानमंत्री स्वामित्व में आवेदन करने के लिए आपको निचे दिए स्टेप्स को फॉलो करना पड़ेंगे।

  • सबसे पहले आपको स्वामित्व योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा | इसके बाद आपके सामने होपेज खुलकर आ जायगा |
  • होमपेज पर आपको नई रजिस्ट्रेशन ऑप्शन पर क्लिक करना है | इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आ जायगा |
  • इस फॉर्म में आपके बारे में कुछ जानकारी मांगी जायगी |
  • फॉर्म में पूछी गयी सारी जानकारी को दर्ज करने के बाद नीचे दिए गए Submit ऑप्शन पर क्लिक करें |
  • अब आप स्वामित्व योजना के अंतगर्त ऑनलाइन पंजीकरण कर चुके है |

स्वामित्व योजना प्रॉपर्टी कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड प्रक्रिया

  • देश के जो भी नागरिक स्वामित्व योजना के अंतगर्त प्रॉपर्टी कार्ड को ऑनलाइन डाउनलोड कराना चाहते है वे सारे नागरिक नीचे दी गयी डाउनलोड की ऑनलाइन प्रक्रिया का पालन करके इस योजना का लाभ ले सकते है।
  • हम आपको बता दे की जिस तरह से और अन्य योजनाओं के कार्ड या सरकारी कार्ड डाउनलोड किये जाते ये उस तरह से नहीं होगा |
  • यदि आप प्रॉपर्टी कार्ड को डाउनलोड कराना चाहते है तो कुछ टाइम का इंतजार करे जब देश के प्रधानमंत्री जी के द्वारा एक बटन दबाते ही लगभग एक लाख नागरिको के पास उनके मोबाइल पर एक लिंक आएगा |
  • उस लिंक पर क्लिक करते ही आपका संपत्ति कार्ड डाउनलोड हो जायगा | और कुछ टाइम बाद ग्राम पंचायतों द्वारा प्रॉपर्टी कार्ड को वितरित किया जा सकेगा |

PFMS डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

आप नीचे दी गयी आसान चरण दर चरण प्रक्रिया का पालन करके PFMS डैशबोर्ड  देख सकते है

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको रिपोर्ट्स सेक्शन के अंतर्गत “Dashboard” के विकल्प पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आप डैशबोर्ड देख सकते है जहाँआपको निम्नलिखित विकल्प दिखाई देंगे :
    • Online Transaction Statistics
    • Online Pending Statistics
    • Scheme Component Expenditure Report
    • Online Payment Status Report
    • Planning & Reporting Dashboard
    • Panchayat Decision Support System (PDSS)
  • अपनी आवश्यकता के अनुसार लिंक का चुनाव करे और सम्बंधित डैशबोर्ड आपके सामने खुल जायेगा।

स्वामित्व योजना के पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खोलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा। इसके बाद आपको इस पेज पर अपना फोन नंबर, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड की जानकारी भरनी होगी।
स्वामित्व योजना के पोर्टल पर लॉगइन
  • आपके द्वारा सभी जानकारी भरने के बाद, आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा।
  • इस तरह आप आसानी से स्वामित्व योजना के पोर्टल पर लॉग इन कर पाएंगे।

स्वामित्व योजना के ब्राउचर/फ्लायर्स डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको ब्राउचर/फ्लायर्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने ब्राउचर/फ्लायर्स की सूची खुलकर आ जाएगी।
स्वामित्व योजना के ब्राउचर/फ्लायर्स डाउनलोड
  • अब आपको सूची में से अपनी आवश्यकतानुसार लिंक पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद ब्राउचर/ फ्लायर्स की सूची पीडीएफ फॉर्मेट में खुलकर आ जाएगी।
  • इसके बाद डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करके आप आसानी से ब्राउचर/ फ्लायर्स डाउनलोड कर पाएंगे।

स्वामित्व योजना के सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खोलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर डाउनलोड के विकल्प को क्लिक कर देना होगा। इसके बाद एक नया पेज खुल कर आ जाएगा जिस पर सभी डाउनलोड की सूची दी होगी।
स्वामित्व योजना के सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड
  • अब आपको सूची में से अपनी जरूरत की लिंक पर क्लिक करना होगा। ‌इसके बाद सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड पीडीएफ फॉर्मेट में खुलकर आपके सामने आ जाएंगे।
  • इसके बाद‌ डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा इस तरह आप सभी महत्वपूर्ण डाउनलोड कर पाएंगे।

स्वामित्व‌ योजना के प्रॉपर्टी कार्ड डिस्ट्रीब्यूटेड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

स्वामित्व‌ योजना के प्रॉपर्टी कार्ड डिस्ट्रीब्यूटेड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

फाइनल मैप जेनरेटेड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको फाइनल मैप जेनरेटेड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
फाइनल मैप जेनरेटेड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा।आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

ड्रोन सर्वेक्षण को देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा।‌ इसके बाद आपको ड्रोन सर्वेक्षण के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
ड्रोन सर्वेक्षण
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

डाटा एंट्री स्टेटस फॉर ड्रोन रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको डाटा एंट्री स्टेटस फॉर ड्रोन के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब सामने एक नया आपके पेज खुल जाएगा।
डाटा एंट्री स्टेटस फॉर ड्रोन रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको डाटा एंट्री स्टेटस फॉर  ड्रोन रिपोर्ट की जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

प्रॉपर्टी कार्ड प्रिपेयर्ड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको प्रॉपर्टी कार्ड  प्रिपेयर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
प्रॉपर्टी कार्ड प्रिपेयर्ड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

इंक्वायरी प्रोसेसिंग रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको इंक्वायरी प्रोसेसिंग विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
इंक्वायरी प्रोसेसिंग रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा। आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

चुनना मार्किंग कंप्लीटेड रिपोर्ट देखने की प्रक्रिय

  • सबसे पहले आपको पीएम स्वामित्व योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा ।
  • वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट के विकल्प पर क्लिक कर देना  होगा।‌ इसके बाद आपको चुनना मार्किंग कंप्लीटेड विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
चुनना मार्किंग कंप्लीटेड रिपोर्ट
  • इस पेज पर आपको अपने राज्य एवं जिले, तहसील, गांव के नाम का चुनाव करना होगा।
  • आपके द्वारा सभी विकल्पों का चुनाव करने के बाद आपको चुनना मार्किंग कंप्लीटेड रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी।

Contact Helpline

हमारी वेबसाइट माध्यम से आपको PM Swamitva Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि इसके बाद भी आपको किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आप ई मेल आईडी पर संपर्क करके अपनी सभी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं। आप निम्न ई मेल आईडी के माध्यम से सहायता प्राप्त कर सकते हैं-   





thank you

Leave a Reply

Your email address will not be published.