प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना 2022: PMRF रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन फॉर्म

Author:


Prime Minister Fellowship Scheme 2022 Registration | प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना ऑनलाइन आवेदन | PMRF Application Form PDF | प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना 2022

प्रधानमंत्री जी ने देश के कई उच्च शिक्षण संस्थानों में अनुसंधान की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए वर्ष 2018 में प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना को शुरू किया था। Prime Minister Fellowship Scheme अनुसंधान में सर्वश्रेष्ठ प्रतिभा को आकर्षित करने का प्रयास करती है और इसके लिए यह आकर्षक फेलोशिप के ऑफर देती है। सभी आईआईएसआर आईआईटी भारत विज्ञान संस्थान बेंगलुरु और अन्य कुछ शीर्ष केंद्रीय एनआईटी विश्वविद्यालय जो विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की डिग्री प्राप्त करते हैं। प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना के अंतगर्त शिक्षण एवं फेलोशिप देते हैं। Prime Minister Fellowship Scheme में माननीय शिक्षा मंत्री श्री रमेश पोखरियाल निशांक के द्वारा बहुत से संशोधनों की घोषणा की गई है। जिनका उद्देश्य यह है कि ज्यादा से ज्यादा छात्र इस फेलोशिप योजना का लाभ ले सकें। शिक्षा मंत्री ने इसके आवेदन के लिए गेट का स्कोर 750 से घटाकर 650 कर दिया है। [यह भी पढ़ें- Mahadbt Scholarship 2021: Apply Online Form, Last Date, Eligibility]

Table of Contents

Prime Minister Fellowship Scheme 2022

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने Prime Minister Fellowship Scheme को शुरू किया है। इस योजना के अंतगर्त बीटेक के 1000 विद्यार्थियों छात्रों को  आईआईएससी एव आईआईटी में पीएचडी करने का अवसर दिया जाएगा। इस योजना के अंतगर्त प्रतिवर्ष प्रमुख संस्थानों के 1000 सर्वश्रेष्ठ भी तक के विद्यार्थियों की पहचान करके उन्हें आईआईटी और भारतीय विज्ञान संस्थान में पीएचडी करने का अवसर दिया जाता है। और इतना ही नहीं वह सभी चयनित नागरिक छात्र एक बहुत अच्छी फेलोशिप राशि भी प्राप्त करेंगे। Prime Minister Fellowship Scheme का लाभ एमटेक एव पीएचडी के स्कॉलर्स को दिया जा सकता है। इसके अंतगर्त उन्हें प्रति माहिने 75000 रूपये की राशि दी जाएगी। प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना 2022 उन सभी छात्रों के लिए बहुत फायदेमंद होगी। जो हायर डिग्री करने जा रहे है। ज्यादातर  छात्रों को बीटेक के बाद कोई जॉब करनी पड़ती है और वे हायर एजुकेशन नहीं कर पाते | [यह भी पढ़ें- |Apply| KALIA Scholarship 2021: Application Form, Eligibility & Status]

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना

PM Modi Yojana

Highlights of Prime Minister Fellowship Scheme

योजना का नाम प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना
आरम्भ की गई केंद्र सरकार द्वारा
वर्ष 2022
लाभार्थी छात्र-छात्राएं
पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन
लाभ आईआईटी एवं आईआईएससी में पीएचडी करने का अवसर
श्रेणी केंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट http://www.primeministerfellowshipscheme.in/

प्रधान मंत्री की अन्य सरकारी योजनाएँ :-

प्राइम मिनिस्टर रिसर्च फेलोशिप टेस्ट और इंटरव्यू

प्रधान मंत्री अनुसंधान फेलोशिप योजना के माध्यम से छात्रों को शोध करने के लिए बिना किसी वित्तीय बोझ के 80 हजार रुपये तक की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। भारत सरकार के माध्यम से इस छात्रवृत्ति का लाभ केवल उन विद्यार्थियों को दिया जाएगा जो फेलोशिप परीक्षा को पास करेंगे। इस परीक्षा में प्रत्येक उम्मीदवार को लिखित परीक्षा और साक्षात्कार से गुजरना होगा। इसमें चर्चा भी शामिल हो सकतीहै। उम्मीदवारों को आवेदन के साथ अपना एक शोध सार भी प्रस्तुत करना अनिवार्य है, जिसमें शोध समस्याएं और उसका दृष्टिकोण आदि शामिल होना अनिवार्य है। [यह भी पढ़ें- किसान सम्मान निधि लिस्ट 2021-22 | pmkisan.gov.in 9th List, PM Kisan Status]

Most Important Dates For Fellowship

Starting date of application                          Notified soon
Last date of applying Updated soon
Admit card launch Updated soon
Date of interviews at nodal Institutes Notified soon
Announcement of result Notified soon

प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना का उद्देश्य

  • इस योजना के अंतगर्त एक 1000 बीटेक छात्र,आईआईएससी और आईईआईटी में पीएचडी करने का अवसर मिल सकेगा। 
  • सरकार  छात्रों को हर महीने कुछ आर्थिक मदद भी प्रदान करेगी। 
  • यह फेलोशिप उच्च डिग्री लेने में काफी सहायक होगी।
  • प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना के अंतगर्त जो छात्र IIT या NIT आदि से पिछले 5 सालो में कम से कम 8.0 CGPA के साथ इंटीग्रेटेड या बीटेक Msc या MTech पूरा कर चुके हैं या अपने अंतिम साल में हैं, उन्हें IIT या IIS में पीएचडी कार्यक्रम में सीधे प्रवेश दिया जाएगा। 
  • Prime Minister Fellowship Scheme के अंतगर्त वर्ग के होनहार विद्यार्थियों के जीवन को उज्ज्वल करेगी। प्रौद्योगिकी और विज्ञान के क्षेत्र के लिए अनुसंधान के क्षेत्र में उच्च शिक्षा करने के इच्छुक योग्य उम्मीदवारों को लाभ दिया जाएगा। 
  • उम्मीदवारों को नई वेब पोर्टल सेवाओं का प्रयोग करके कार्यक्रम के अंतगर्त तत्काल पंजीकरण की सुविधा भी दी जाएगी।
  • नई ड्राइव का उद्देश्य प्रतिभाओं को आकर्षित करना है और देश के व्यापक मंच से प्राथमिकता के आधार पर, नई प्रतिभाओं को अवसर दिया जा सकता है जो किसी विशेष राज्य या क्षेत्र और जाति तक सीमित नहीं है।

Prime Minister Fellowship योजना का लाभ

  • प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना के अंतगर्त पहले 2 सालो के लिए नागरिक विद्यार्थी को हर महीने 7000 रूपये की फेलोशिप प्रदान की जाएगी।  इसके बाद तीसरे साल में फेलोशिप की राशि 75000 होगी और चौथे साल 80000 राशि हो जाएगी।
  • वह सभी छात्र जो Prime Minister Fellowship Scheme के अंतगर्त पीएचडी कर रहे होंगे उन्हें अपने रिसर्च पेपर को पेश करने के लिए विदेश यात्रा का खर्च भी दिया जाएगा। 5 वर्ष की हर फैलो को 200000 रूपये की रिसर्च राशि ग्रांट की जाएगी। पिछले साल सरकार ने 7 सालो के लिए इस योजना की खातिर 1650 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया था।
  • भारत के काफी ऐसे गरीब बच्चे हैं जो पैसे नहीं होने की वजह से अच्छी शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते। सरकार इन होनहार बच्चों को राशि की कमी की वजह से पढ़ाई अधूरी ना छोड़ने के उद्देश्य के साथ Prime Minister Fellowship Scheme की शुरुआत की गयी है।
प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना

प्रधानमंत्री फेलोशिप योजना के तहत छात्रवृत्ति वितरण

  • प्रोग्राम के पहले 2 सालो में सरकार द्वारा प्रत्येक कैंडिडेट को 70000 रूपये हर महीने की छात्रवृत्ति दी जाएगी।
  • प्रोग्राम के 2 साल उत्तर इन करने के बाद तीसरे साल में एक रजिस्टर्ड कैंडिडेट को 75000 रूपये हर महीने की छात्रवृत्ति का लाभ मिलेगा।
  • प्रोग्राम के चौथे और पांचवें साल में हर कैंडिडेट 80000 रूपये हर महीने का स्टीफन प्राप्त करेगा।
  • ऊपर दिए गए टिफन के अलावा सरकार द्वारा 5 वर्ष के लिए हर साल 200000 रूपये की ग्रांट अर्थात पूरे कोर्स में 1000000 रुपए के ग्रांट देने की घोषणा की गई है।
पढ़ाई के वर्ष स्टाइपेंड राशि(हर महीने) स्टाइपेंड राशि (प्रति वर्ष) कुल
1 70 हजार 2 लाख 10,40,000
2 70 हजार 2 लाख 10,40,000
3 75 हजार 2 लाख 11,00,000
4 80 हजार 2 लाख 11,60,000
5 80 हजार 2 लाख 11,60,000
कुल   55 लाख

पीएमआरएफ आवेदन शुल्क

  • केंद्र सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना के अंतर्गत शुल्क का भुगतान सीधे आवेदक द्वारा ऑनलाइन वेब पोर्टल से किया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री फेलोशिप रिसर्च योजना के तहत लाभ प्राप्प्त करने के लिए उम्मीदवार को आवेदन कर देना है, जिसके लिए आवेदक से 1000 रुपये का भुगतान शुल्क प्राप्त किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत एक बार भुगतान होने के बाद पीडीएफ प्रारूप के रूप में आपके संदर्भ के लिए एक ई-रसीद मिल जाएगी जिसकी सहायता से आपको भविष्य में किसकी तरह की परेशानी नहीं होगी।
  • प्रधानमंत्री फेलोशिप रिसर्च योजना के तहत ऑनलाइन भुगतान मोड का चयन करते ही आपको SBI पोर्टल के द्वारा भुगतान से हुदे सभी इंस्ट्रक्शन भेज दिए जाएगे, जिसकी सहायता से आप योजना से जुड़े सभी नियम और शर्तो के बारे में जान सकते है।

प्रधानमंत्री अनुसंधान फैलोशिप में संशोधन

  • प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप के अंतर्गत किसी भी यूनिवर्सिटी के छात्र आवेदन कर सकते हैं। पहले केवल कुछ तय किये संस्थानों के छात्र ही आवेदन कर सकते थे, परंतु अब ऐसा नहीं है।
  • पहले GATE का स्कोर 750 था जो जिसको अब घटाकर 600 कर दिया गया है।
  • नए नियमो  के अनुसार, प्रवेश अब दो प्रकार से होंगे  जो प्रत्यक्ष प्रवेश और पार्श्व प्रवेश है।
  • लेटरल एंट्री हेतु जो छात्र पीएच.डी. पीएमआरएफ अनुदान देने वाले संस्थानों से और आवश्यकता के अनुसार कम से कम 12 महीने या 24 महीने पूरे कर चुके हैं केवल वह छात्र ही प्रधान मंत्री अनुसंधान फेलोशिप योजना के तहत फेलो बनने के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।
  • वे सभी राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान जो राष्ट्रीय संस्थान रैंकिंग ढांचे की रैंकिंग में शीर्ष 25 संस्थानों में आते हैं, वे भी इस फेलोशिप में दर्ज हो सकते हैं।

फैलोशिप कार्यक्रम से जुड़े व्यापक अनुशासन

  • महासागर इंजीनियरिंग और नौसेना वास्तुकला
  • खनन, खनिज, कोयला और ऊर्जा क्षेत्र
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • गणित
  • इंजीनियरिंग डिजाइन
  • विद्युत अभियन्त्रण
  • केमिकल इंजीनियरिंग
  • जैवचिकित्सा अभियांत्रिकी
  • जैविक विज्ञान
  • कंप्यूटर विज्ञान
  • असैनिक अभियंत्रण
  • रसायन शास्त्र’
  • सामग्री विज्ञान और धातुकर्म इंजीनियरिंग
  • विज्ञान और इंजीनियरिंग में अंतःविषय कार्यक्रम
  • अंतरिक्ष इंजीनियरिंग
  • कृषि और खाद्य इंजीनियरिंग
  • भौतिक विज्ञान
  • टेक्सटाइल इंजीनियरिंग

प्रधानमंत्री अनुसंधान फैलोशिप अनुदान संस्थान

  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • आईआईएसईआर भोपाल
  • आईआईएससी बैंगलोर
  • आईआईएसईआर बरहामपुर
  • आईआईटी भिलाई
  • आईआईटी बीएचयू
  • आईआईएसईआर कोलकाता
  • आईआईएसईआर मोहाली
  • आईआईएसईआर पुणे
  • आईआईएसईआर तिरुवनंतपुरम
  • आईआईएसईआर तिरुपति
  • आईआईटी गोवा
  • आईआईटी गुवाहाटी
  • आईआईटी भुवनेश्वर
  • आईआईटी बॉम्बे
  • आईआईटी दिल्ली
  • आईआईटी धारवाड़
  • आईआईटी हैदराबाद
  • आईआईटी इंदौर
  • आईआईटी जोधपुर
  • आईआईटी (आईएसएम) धनबाद
  • आईआईटी गांधीनगर
  • आईआईटी मंडी
  • आईआईटी पटना
  • आईआईटी रुड़की
  • ईट कानपुर
  • आईआईटी खड़गपुर
  • आईआईटी मद्रास
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, तिरुचिरापल्ली
  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • हैदराबाद विश्वविद्यालय
  • आईआईटी रोपड़
  • आईआईटी जम्मू
  • आईआईटी पलक्कड़ो
  • आईआईटी तिरुपति
  • जामिया मिलिया इस्लामिया

Grant Institute Prime Minister Fellowship Scheme

पीएमआरएफ के तहत सभी चुनिंदा लाभार्थी निम्नलिखित संस्थानों में उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं।

  • IISc, बेंगलुरु
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय
  • जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय
  • जामिया मिलिया इस्लामिया
  • दिल्ली विश्वविद्यालय
  • बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, तिरुचिरापल्ली
  • सभी IISERs
  • सभी आई.आई.टी.
  • हैदराबाद विश्वविद्यालय

(*10*)प्राइममिनिस्टर रिसर्च फेलोशिप हेतु नियम व शर्तें

  • उम्मीदवार को प्राइममिनिस्टर रिसर्च फेलोशिप के द्वारा डिलिवरेबल्स दिए जाएंगे, इन डिलिवरेबल्स को हर वर्ष प्राप्त करना अनिवार्य रहेगा। 
  • डिलिवरेबल्स गाइड उस विभाग के द्वारा तय किए जाएंगे, जिसमें रिसर्च फेलो शामिल है।
  • यदि आवेदक फेलो डिलिवरेबल्स को प्राप्त करने में असफल रहता है तो फेलोशिप का लाभ बंद कर दिया जाएगा।
  • वार्षिक समीक्षा से गुजरने के पश्चात ही फेलोशिप प्रोत्साहन प्राप्त होगा। यदि इस समीक्षा में प्रदर्शन संतोषजनक पाया जाता है तो फेलोशिप जारी रहेगी अन्यथाफेलोशिप जारी नहीं होगी।
  • प्रत्येक साथी को सप्ताह में एक बार पास के पॉलिटेक्निक/आईटीआई/इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ाना होता है।

Prime Minister Fellowship Scheme के लिए पात्रता मानदंड

  • आवेदक की अच्छी शिक्षा पासिंग मार्क्स के साथ पूरी हुई होनी चाहिए या फिर आवेदक अपने शिक्षा के अंतिम साल में होना चाहिए।
  • योजना के अंतगर्त आवेदन के लिए आवेदक का पहले से एमटेक प्रोग्राम में 5 वर्ष में नामांकित होना या m-tech प्रोग्राम को पूरा किया होना अनिवार्य होगा।
  • यूजी पीजी एग्जाम के डिग्री कोर्स के तहत शिक्षा प्राप्त कर चुका या पढ़ रहा कोई भी कैंडिडेट प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना के लिए आवेदन कर सकता है।
  • केवल आईआईटी,आईआईएससी, एनआईटी, आईआईएसईआर से विज्ञान और टेक्नोलॉजी में शिक्षा पूरी करने वाले छात्रों को ही डॉक्टरेट फैलोशिप प्रोग्राम के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • कैंडिडेट के सीपीआई या सीजीपीए में 10 में से लगभग आठ स्कोर होने चाहिए।
  • 5 वर्षीय यूजी पीजी कोर्स कर रहे कैंडिडेट के 4 साल किस को भी प्रोग्राम की योग्यता में गिने जाएंगे।

PMRF हेतु नई पात्रता मानदंड

भारत सरकार के अनुसार यह तय किया गया है कि फेलोशिप में दो प्रकार से प्रवेश कर सकते हैं। जिसमें से एक सीधी प्रविष्टि है तथा अन्य पार्श्व प्रविष्टि है। दोनों प्रकार प्रवेश हेतु निम्नलिखित पात्रता मानदंड दिए गए है जो इस प्रकार है कि –

डायरेक्ट एंट्री (सीधी प्रविष्टि) हेतु

पिछले तीन वर्षों में,आवेदक के पास निम्नलिखित में से कोई भी योग्यता होनी चाहिए-

  • आवेदक भारत में मान्यता प्राप्त किसी भी संस्थान/विश्वविद्यालय से 8.0 या उससे अधिक के सीजीपीए और महत्वपूर्ण विषय में 650 या उससे अधिक के गेट स्कोर के साथ विज्ञान और प्रौद्योगिकी धाराओं में स्नातक या परास्नातक योग्यता के अंतिम वर्ष की मांग कर रहे हैं या प्राप्त कर रहे हैं।
  • कम से कम चार पाठ्यक्रमों के साथ प्राथमिक सेमेस्टर के अंत की ओर 8.0 सीजीपीए या उससे अधिक सीजीपीए वाले पीएमआरएफ अनुदान संस्थानों में से किसी एक में जांच करके गेट क्वालिफाइड हो या एम.टेक./एमएस की पढ़ाई पूरी की हो।
  • आवेदक PMRF देने वाले संगठनों में से किसी एक कार्यक्रम में आवेदन किया हो या पीएच.डी. के लिए चुने गए हों।
  • प्रधान मंत्री अनुसंधान फेलोशिप योजना का लाभ लाभार्थी को केवल तब ही दिया जायेगा जब लाभार्थी जिस संसथान से पीएचडी कर रहा है उस संस्थान के सभी मानदंडों को पूरा कर रहा है।

लेटरल एंट्री (पार्श्व प्रविष्टि) हेतु

  • आवेदक को पीएचडी में एक वर्ष में मांगी जाने वाली सभी चीजों को पूरा करना अनिवार्य है। मास्टर योग्यता के साथ आवेदक को पीएचडी के प्रथम वर्ष में मिला कार्यक्रम को पूरा करना अनिवार्य है तथा में पीएचडी में दूसरा साल में मिले कार्यक्रम को पूरा करना भी अनिवार्य है। अर्थात यह कार्यक्रम स्नातक प्रमाणपत्र के साथ पीएचडी कार्यक्रम में शामिल हुआ होना चाहिए। पीएचडी में चार पाठ्यक्रमों का 8.5 या उससे अधिक के सीजीपीए/सीपीआई के साथ कार्यक्रम पूरा करना अनिवार्य है।
  • पीएमआरएफ अनुदान संस्थान के माध्यम से छात्र का चयन किया जायेगा , पीएमआरएफ अनुदान संस्थान प्रतियोगी हेतु एक ठोस सुझाव है और पीएमआरएफ वेब-आधारित इंटरफेस पर लागू डेटा को स्थानांतरित करता है।
  • आवेदकों का एक ठोस शोध प्रस्ताव, वितरण रिकॉर्ड और ग्रेड के आधार पर चयन किया जाएगा।

प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना रिक्वायर्ड डाक्यूमेंट्स

Prime Minister Fellowship Scheme के अंतगर्त पंजीकरण करने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की जरूरत होगी।

  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • अंतिम पूर्ण सेमेस्टर तक प्रतिलेख / प्रतिलिपि / मार्कशीट की प्रतिलिपि पीडीएफ
  • सार पीडीएफ (1000 शब्द)
  • प्रासंगिक पाठ्यचर्या Vitae (CV) की पीडीएफ
  • एसबीआई कलेक्ट ई-रसीद का पीडीएफ

(*3*)प्रधानमंत्री रिसर्च फेलोशिप योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

आप नीचे दी गई आसान प्रक्रिया के द्वारा Prime Minister Fellowship Scheme के अंतगर्त ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री फैलोशिप रिसर्च प्रोग्राम की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
PM फेलोशिप योजना
  • होम पेज पर आपको अप्लाई ऑनलाइन के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इस पेज पर आप आवेदन फॉर्म देख सकते हैं। इस फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारी भरनी।
  • इसके बाद अपने जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करें। अंत में एक बार फिर से सारी जानकारी को चेक करें और फिर सबमिट का बटन दबाकर इस आवेदन फॉर्म को सबमिट करते।
  • आप जीवन के लिए अपने आवेदन फॉर्म का प्रिंट आउट भी निकाल सकते हैं।

Contact Information

इस लेख में हमने आपको प्रधानमंत्री फेलोशिप रिसर्च स्कीम से जुड़ी सारी जानकारी बता दी है। लेकिन यदि उपरोक्त लेख को पढ़ने के बाद भी आपके मन में कोई प्रश्न है या योजना से संबंधित कोई समस्या आ रही है तो आप इसके लिए नीचे दिए गए हेल्पलाइन विवरण के माध्यम से अधिकारियों से संपर्क कर सहायता प्राप्त कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दी गई उनकी आधिकारिक वेबसाइट पर भी जा सकते हैं।

  • वेबसाइट: https://may2019.pmrf.in/
  • हेल्पलाइन नंबर: +91-8330913053
  • ईमेल: [email protected]



thank you

Leave a Reply

Your email address will not be published.